हैडलाइन

गोरखपुर आॅक्सीजन कांड: मौतों की संख्या 63 हुई

गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज अस्पताल में आॅक्सीजन सप्लाई बंद हो जाने के कारण हुई मौतों की संख्या 63 हो गई है। प्रमाण सामने आए हैं कि अस्पताल में आॅक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी पुष्पा सेल्स प्राइवेट लिमिटेड का 70 लाख रुपए बकाया था। कंपनी कई बार नोटिस दे चुकी थी कि यदि पेमेंट नहीं किया गया तो वो सपलाई बंद कर देंगे और घटना के दिन उसने सप्लाई बंद कर दी। यूपी सरकार ने इसका खंडन किया है। लेकिन सूत्र दावा कर रहे हैं कि कंपनी का पेमेंट जान बूझकर रोका गया था। दरअसल, यूपी की भाजपा सरकार पुष्पा सेल्स प्राइवेट लिमिटेड के मालिक मनीष भंडारी का सपा कनेक्शन तलाश रही थी। इसीलिए यह पेमेंट रुका हुआ था।
ऑक्सिजन आपूर्ति करने वाली फर्म पुष्पा सेल्स की ओर से दीपांकर शर्मा ने एक अगस्त को ही मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य को पत्र लिखकर बकाया 63.65 लाख रु. का भुगतान न होने के कारण सप्लाई बाधित होने की चेतावनी दी थी। पत्र में लिखा था कि बकाया भुगतान न होने की स्थिति में वह गैस की सप्लाई नहीं कर पाएंगे और इसकी जिम्मेदारी संस्था की होगी। गुरुवार से ऑक्सिजन का प्रेशर लो था। आपूर्तिकर्ता कंपनी ने पेमेंट न होने पर लिक्विड ऑक्सिजन की सप्लाई बंद कर दी थी।
इस घटना के बाद एक तरफ यूपी सरकार ने दावा किया है कि अस्पताल में मौतें आॅक्सीजन बंद होने के कारण नहीं हुईं परंतु दूसरी ओर सरकार ने मनीष भंडारी को पकड़ने के लिए छापामार कार्रवाई शुरू कर दी। मनीष भंडारी फरार हो गए हैं। मनीष भंडारी पुलिस के रवैए से डरे हुए हैं। पुलिस के बड़े अधिकारियों के दबाव के चलते मनीष भंडारी मीडिया के सामने भी नहीं आ रहे हैं।
सूत्रों का दावा है कि यूपी में इन दिनों उन तमाम ठेकेदारों का पेमेंट रुका हुआ है जो सपा सरकार में मलाई काट रहे थे। कई ठेकेदारों ने अखिलेश यादव की सपा सरकार में पकड़ बनाकर ठेके और सप्लाई का काम लिया था। दबदबा इतना था कि उनकी शिकायतें फाइलों में दर्ज तक नहीं की गईं। जब ये यूपी में योगी आदित्यनाथ सरकार आई है, ऐसे सभी ठेकेदारों की जांच पड़ताल हो रही है।

Categories: uncategorized

72 Comments

  1. hi!,I love your writing very much! percentage we communicate more about your article on AOL?
    I require an expert in this area to solve my problem.
    May be that’s you! Looking forward to see you.

    Reply
  2. Fantastic beat ! I wish to apprentice whilst you amend your
    site, how can i subscribe for a blog website? The account helped me a applicable deal.

    I had been a little bit familiar of this your broadcast offered vibrant transparent
    idea

    Reply
  3. Simply wish to say your article is as astonishing.

    The clearness in your post is simply great and i can assume you’re an expert on this subject.
    Well with your permission allow me to grab your RSS feed to keep updated with forthcoming post.
    Thanks a million and please carry on the rewarding work.

    Reply
  4. Hey There. I discovered your blog the usage
    of msn. That is a really smartly written article. I’ll make sure to bookmark it and come
    back to learn extra of your useful information. Thank you for the post.
    I’ll certainly return.

    Reply
  5. With havin so much content do you ever run into any problems of plagorism or copyright infringement?

    My site has a lot of completely unique content I’ve either
    authored myself or outsourced but it looks like a lot of it is popping it up all over the internet without my authorization. Do you know any
    solutions to help protect against content from being ripped off?
    I’d really appreciate it.

    Reply
  6. I’m not sure exactly why but this website is loading very slow for me.
    Is anyone else having this problem or is it a issue on my end?
    I’ll check back later on and see if the problem still exists.

    Reply
  7. We’re a group of volunteers and opening a new scheme in our community.
    Your website offered us with valuable information to work on.
    You have done an impressive job and our whole community will be thankful to you.

    Reply

Leave A Reply

Your email address will not be published.