AICC द्वारा एमपी की आरक्षित सीटों के पर्यवेक्षक बनाये गए पूर्व सांसद लोकसभा राज्यसभा बृजलाल खाबरी जी।

मध्यप्रदेश में कांग्रेस पार्टी इस बार बड़े ही मैनेजमेंट के साथ चुनाव की तैयारी में हैं अभी कुछ ही दिनों पूर्व कमलनाथ जी को मध्य प्रदेश का प्रदेश अध्यक्ष बनाने के साथ-साथ चार कार्यवाहक प्रदेश अध्यक्ष भी बनाए गए थे उसी के साथ ही बुंदेलखंड के क्षेत्र में अपना प्रभाव रखने वाले भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूर्व सांसद लोकसभा राज्यसभा बृजलाल खाबरी जी एवं एमएलए सिद्धार्थ परमार को राहुल गाँधी जी की अनुसंसा पर मध्यप्रदेश की अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट पर पर्यवेक्षक के रुप में नियुक्त किया गया है खाबरी जी बहुत ही उर्जावान और सक्रिय नेताओं में गिने जाते हैं बुंदेलखंड के क्षेत्र में इनका काफी प्रभाव है और उनके समर्थकों में युवाओं की खास संख्या है मध्यप्रदेश में भी कई जिलों में खाबरी जी पूर्व में भी दौरे कर चुके हैं जहां खाबरी जी के पर्यवेक्षक बनाए जाने पर युवाओं में एक नया जोश आया है और उम्मीद लगाई जा रही हे की उनके आने से मध्य प्रदेस में अन्य दलों के कार्यकर्ता भी कांग्रेस पार्टी में शामिल होने करने में उनका विशेष सहयोग रहेगा ।

जय भारत न्यूज़ से बातचीत में श्री खाबरी जी ने बताया कि उनका मुख्य उद्देश्य है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार बननी चाहिए और समाज के दलित पिछड़े लोगों के सम्मान उनके हको के लिए कांग्रेस पार्टी हमेशा लाड़ती आई है वर्तमान में मध्यप्रदेश में दलित वर्ग के युवाओं पर भजपा सरकार ने झूठे प्रकरण दर्ज किए जा रहे हैं और जुल्म किया जा रहा है में उन सभीयुवाओं से कहना चाहता हूं कि आप सब मिलकर मध्य प्रदेश से भाजपा सरकार को उखाड़ फेके और मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाइए मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनती है तो उन सभी दलितों पर जिन पर झूठे प्रकरण दर्ज किए गए हैं सारे प्रकरण वापस लिए जाएंगे माननीय राहुल गांधी जी ने मुझे जो जवाबदारी सौंपी है और हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय नितिन रावत जी ने जो मुझे इस लायक समझा में सभी को धन्यवाद देता हूं मैं पूरा प्रयास करुंगा कि मध्य प्रदेश में जितनी भी आरक्षित सीटें हैं उन सभी सीटों पर कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार विजय हो और मध्यप्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार बने।

कांग्रेस पार्टी द्वारा बृजलाल खाबरी जी को आरक्षित सीटों का पर्यवेक्षक बनाए जाना एक बड़ी ही रणनीति है क्योंकि खाबरी जी को राजनीतिक तौर पर अनुसूचित जाति की राजनीति में राजनीति का चांडक कहा जाता उनके पर्यवेक्षक बनाए जाने पर बड़े पैमाने पर दूसरे दलों के लोग कांग्रेस पार्टी में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है अब देखते हैं वह कितना अपने काम में सफल हो पाते हैं।

Categories: uncategorized

Comments are closed